उज़्बेकिस्तान का स्वायत्त प्रांत कराकल्पकस्तान

132

कराकल्पक खुद को उज्बेकिस्तान में एक अलग सांस्कृतिक समूह मानते हैं। उनकी तुर्क भाषा – कराकल्पक – कज़ाक से निकटता से संबंधित है और उज़्बेकिस्तान के पब्लिक स्कूलों में शिक्षा की 7 भाषाओं में से एक है। उनकी अलग भाषा उनकी सांस्कृतिक पहचान का एक महत्वपूर्ण पहलू है।

क्षेत्र का इतिहास?

काराकल्पक लोग 18वीं सदी में अमु दरिया (अराल सागर में मिलने वाली नदी) के आसपास बस गए थे। 1873 तक, वे आंशिक रूप से रूसी शासन के अधीन आ गए और 1920 तक पूरी तरह से सोवियत संघ में शामिल हो गए।

1936 में कराकल्पक स्वायत्त समाजवादी गणराज्य (एएसएसआर) के रूप में उज्बेकिस्तान का हिस्सा बनने से पहले उनका क्षेत्र, कराकल्पकस्तान, रूसी सोवियत संघीय समाजवादी गणराज्य (1917-1922 के दौरान रूस) के भीतर एक स्वायत्त क्षेत्र था।

जब अगस्त 1991 में उज्बेकिस्तान ने सोवियत संघ से अपनी स्वतंत्रता की घोषणा की, उसी वर्ष दिसंबर में कराकल्पक एएसएसआर को कराकल्पकस्तान गणराज्य के रूप में फिर से स्थापित किया गया। 1992 के उज़्बेकिस्तान के संविधान में कराकल्पकस्तान को औपचारिक रूप से एक स्वायत्त गणराज्य के रूप में मान्यता दी गई थी, और इसे राष्ट्रव्यापी जनमत संग्रह के आधार पर अलग होने का अधिकार है।