क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग 2023

223

संदर्भ:

हाल ही में, अग्रणी वैश्विक उच्च शिक्षा विश्लेषक ‘क्यूएस (क्वाक्वेरेली साइमंड्स)’ अर्थात (QS – Quacquarelli Symonds) द्वारा विश्व की अंतरराष्ट्रीय विश्वविद्यालय रैंकिंग का 19 वां संस्करण जारी किया गया है।

‘क्वाक्वेरेली साइमंड्स’ (QS) एकमात्र अंतरराष्ट्रीय रैंकिंग है जिसे ‘अंतर्राष्ट्रीय रैंकिंग विशेषज्ञ समूह’ (IREG) का अनुमोदन प्राप्त है।

संस्थानों की रैंकिंग किस प्रकार की जाती है?

क्यूएस द्वारा निम्नलिखित छह संकेतकों के आधार पर संस्थानों की रैंकिंग निर्धारित की जाती है:

शैक्षणिक प्रतिष्ठा (Academic Reputation)
नियोक्ता की प्रतिष्ठा (Employer Reputation)
संकाय-छात्र अनुपात (Faculty-Student Ratio)-
प्रकाशित शोध / संकाय (Citations per faculty)
अंतर्राष्ट्रीय छात्रों का अनुपात (Proportion of International Students)
अंतर्राष्ट्रीय संकाय अनुपात (Proportion of International Faculty)
भारतीय संस्थानों का प्रदर्शन:

क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग के नवीनतम संस्करण में 41 भारतीय विश्वविद्यालय शामिल हैं, जिनमें से 12 विश्वविद्यालयों ने अपनी स्थिति में सुधार किया है, 12 विश्वविद्यालयों की स्थिति /रैंकिंग पूर्ववत रही है, 10 विश्वविद्यालयों की रैंकिंग में गिरावट आई और सात नए विश्वविद्यालय रैंकिंग में शामिल हुए हैं।

भारतीय विज्ञान संस्थान (IISc), बेंगलुरु, विश्व स्तर पर 155वें स्थान पर है और इसे ‘उद्धरण प्रति संकाय’ (citations per faculty – CpF) संकेतक में वैश्विक अग्रणी के रूप में जगह दी गयी गई है।

QS द्वारा ‘उद्धरण प्रति संकाय’ (CpF) संकेतक का उपयोग विश्वविद्यालयों द्वारा उत्पादित अनुसंधान के प्रभाव का मूल्यांकन करने के लिए किया जाता है।
भारतीय विज्ञान संस्थान (IISc), क्यूएस रैंकिंग में शीर्ष -200 विश्वविद्यालयों में सबसे तेजी से उभरता हुआ दक्षिण एशियाई विश्वविद्यालय है, जिसने साल दर साल 31 स्थानों की छलांग लगाई है।
क्यूएस रैंकिंग की इस सूची में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान(आईआईटी)-बॉम्बे ने पांच पायदान की छलांग लगाते हुए 172वां स्थान हासिल किया है। आईआईटी-बॉम्बे को भारत का दूसरा सबसे अच्छा संस्थान बताया गया है। आईआईटी बॉम्बे, क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग के पिछले संस्करण में शीर्ष भारतीय विश्वविद्यालय था।
सर्वश्रेष्ठ भारतीय विश्वविद्यालयों में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, दिल्ली (IIT-D) को तीसरा स्थान मिला है, इसके बाद IIT मद्रास और IIT कानपुर को सूची में जगह मिली है।
भारत के निजी संस्थानों में पी. जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी को शीर्ष स्थान दिया गया है।