छत्तीसगढ़ का पहला सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट

105

जिला मुख्यालय के करीब ग्राम बालीकोंटा में बस्तर का पहला सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट बनकर तैयार हो गया है। करीब दो साल से बन रहे इस सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट का लोकार्पण 26 जनवरी के मौके पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल करेंगे।

इसके लोकार्पण के साथ ही शहर के नालों का गंदा पानी आने वाले दिनों में अब दलपत सागर और इंद्रावती नदी में नहीं जाएगा। इस ट्रीटमेंट प्लांट में हर दिन 25 लाख लीटर पानी को साफ किया जाएगा।

इस साफ पानी का उपयोग किसानों को सिंचाई के लिए उपलब्ध कराने के साथ ही इंद्रावती नदी में छोड़ा जाएगा। निगम के अधिकारियों ने कहा कि प्लांट बनने के बाद आवश्यकता के हिसाब से इस पानी का उपयोग किया जाएगा।

शहर से करीब 5 किलोमीटर दूर बालीकोंटा में सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट . का निर्माण किया गया है । 65 करोड़ रुपए की लागत से बन रहे सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट को 3 जुलाई 2019 में शुरू करवाया गया था । जो अब बनकर तैयार है निगम यह काम अमृत योजना के तहत करवा रही है ।

इस कार्य पर -54 करोड़ रुपए खर्च होना है । इस सिस्टम की देखरेख कंपनी 15 साल तक करेगी । इसके लिए अलग से पौने 11 करोड़ दिए जाएंगे । इस ट्रीटमेंट प्लांट में हर दिन 25 लाख लीटर पानी को साफ किया जाएगा । इस साफ पानी का उपयोग किसानों को सिंचाई के लिए उपलब्ध कराने के साथ ही इंद्रावती नदी में छोड़ा जाएगा