तमिलनाडु में एक और हाथी रिज़र्व

105

हाल ही में भारत सरकार ने केरल में पेरियार वन्यजीव अभयारण्य में एक कार्यक्रम के दौरान तमिलनाडु में एक और हाथी रिज़र्व (ER) अगस्त्यमलाई की अधिसूचना की घोषणा की है।

नगालैंड में सिंगफन ER वर्ष 2018 में अधिसूचित होने के बाद यह देश का 32वाँ हाथी रिज़र्व होगा।

अगस्त्यमलाई तमिलनाडु का 5वाँ हाथी रिज़र्व और बायोस्फीयर रिज़र्व भी है।

भारतीय हाथी:

परिचय: इसे “एलिफस मैक्सिमस” के नाम से भी जाना जाता है।

स्थान: मध्य एवं दक्षिणी-पश्चिमी घाट

उत्तर-पूर्वी भारत

पूर्वी भारत

उत्तरी भारत

दक्षिणी प्रायद्वीपीय भारत के कुछ भाग।

संरक्षण की स्थिति:

IUCN रेड लिस्ट: लुप्तप्राय

CITES: परिशिष्ट I

वन्यजीव (संरक्षण) अधिनियम, 1972: अनुसूची I

भारत में आँकड़े:

भारत में हाथियों की संख्या लगभग 27,312 (2017 की जनगणना) हो गई है।

कर्नाटक में हाथियों की संख्या सबसे अधिक (6,049) थी, उसके बाद असम (5,719) और केरल (3,054) का स्थान आता है।

प्रोजेक्ट एलीफैंट:

परिचय:

यह एक केंद्र प्रायोजित योजना है जो हाथियों, उनके आवास और गलियारों की सुरक्षा के लिये फरवरी, 1992 में शुरू की गई थी। पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय, परियोजना के माध्यम से देश के प्रमुख हाथी रेंज़ वाले राज्यों को वित्तीय और तकनीकी सहायता प्रदान करता है।