‘दूध वाणी’ सामुदायिक रेडियो स्टेशन का उद्घाटन

410

हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पशुपालकों के लिए ‘दूध वाणी’ नामक एक सामुदायिक रेडियो स्टेशन का उद्घाटन किया है। सहकारी दुग्ध उत्पादक संघ द्वारा बनासकांठा जिले में बनास डेयरी सामुदायिक रेडियो स्टेशन को स्थापित किया गया है, इसे बनास डेयरी के नाम से जाना जाता है। दूध वाणी सामुदायिक रेडियो स्टेशन की स्थापना का मुख्य उद्देश्य किसानों को पशुपालन और कृषि से जुड़ी आवश्यक वैज्ञानिक जानकारी प्रदान करना है।

महत्त्वपूर्ण बिंदु :

यह भारत का पहला रेडियो स्टेशन है, जो पूर्णतया पशुपालकों को समर्पित है।

इस स्टेशन के द्वारा गुजरात राज्य में 1,700 समुदायों में लगभग पाँच लाख डेयरी उत्पादकों को जोड़ा जाएगा।

राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड (NDDB) ने ऑल इंडिया रेडियो के सहयोग से एक द्विसाप्ताहिक पॉडकास्ट शृंखला शुरू की गई है।

बनास डेयरी के बारे में :

वर्ष 1969 में बनास डेयरी की स्थापना की गई थी।

यह एशिया का सबसे बड़ा दूध उत्पादक है।

बनास डेयरी गुजरात के बनासकांठा जिले में स्थित है, जिसका मुख्यालय पालनपुर में है।

यह गुजरात सहकारी दुग्ध विपणन संघ का एक प्रभाग है।

इसका स्वामित्व सहकारिता मंत्रालय, गुजरात सरकार के पास है।