परम प्रवेग सुपर कंप्यूटर

343

बंगलूरू स्थित ‘भारतीय विज्ञान संस्थान’ (IISc) ने ‘परम प्रवेग’ नामक सुपरकंप्यूटर को कमीशन करने की घोषणा की है, जो कि राष्ट्रीय सुपरकंप्यूटिंग मिशन के तहत नवीनतम सुपर कंप्यूटर है।

भारतीय विज्ञान संस्थान के मुताबिक, ‘परम प्रवेग’ भारत में सबसे शक्तिशाली सुपरकंप्यूटरों में से एक है। ‘परम प्रवेगा’ सुपरकंप्यूटर में 3.3 पेटाफ्लॉप्स की कुल सुपरकंप्यूटिंग क्षमता मौजूद है (1 पेटाफ्लॉप या 1015 ऑपरेशन प्रति सेकेंड के बराबर)।

इस सुपरकंप्यूटर का इस्तेमाल अनुसंधान हेतु किया जाएगा। ‘परम प्रवेग’ सुपरकंप्यूटर में सीपीयू नोड्स के लिये इंटेल ज़ियोन कैस्केड लेक प्रोसेसर और जीपीयू नोड्स पर एनवीआईडीआईए टेस्ला वी100 कार्ड के साथ विषम नोड्स का मिश्रण है।

परम प्रवेग सुपरकंप्यूटर में कंप्यूट नोड्स के 11 डीसीएलसी रैक, मास्टर/सर्विस नोड्स के 2 सर्विस रैक और डीडीएन स्टोरेज के 4 स्टोरेज रैक शामिल हैं। ‘परम प्रवेग’ सुपरकंप्यूटर को ‘सेंटर फॉर डेवलपमेंट ऑफ एडवांस्ड कंप्यूटिंग’ (सी-डैक) द्वारा डिज़ाइन किया गया है।

इस प्रणाली को बनाने हेतु उपयोग किये जाने वाले अधिकांश घटकों को सी-डैक द्वारा विकसित एक स्वदेशी सॉफ्टवेयर स्टैक के साथ भारत में निर्मित और असेंबल किया गया है।

गौरतलब है कि राष्ट्रीय सुपरकंप्यूटिंग मिशन का संचालन विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (DST) तथा इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (MeitY) द्वारा किया जाता है तथा सी-डैक एवं IISc द्वारा कार्यान्वित किया जाता है।

परम प्रवेग (Param Pravega)

परम प्रवेग सिस्टम के उच्च-प्रदर्शन कंप्यूटिंग वर्ग का एक सुपरकंप्यूटर हिस्सा है। यह सिस्टम विषम नोड्स का मिश्रण है, जिसमें CPU नोड्स के लिए Intel Xeon Cascade Lake प्रोसेसर शामिल हैं। यह हाई-परफॉर्मेंस कंप्यूटिंग एप्लीकेशन्स को विकसित करने और निष्पादित करने के लिए प्रोग्राम डेवलपमेंट टूल्स, यूटिलिटीज़ और लाइब्रेरीज की एक श्रृंखला होस्ट करता है, जिसमें हार्डवेयर के शीर्ष पर सॉफ़्टवेयर स्टैक शामिल होता है। इसमें हाई-मेमोरी सीपीयू-ओनली नोड्स भी हैं, जो सीपीयू-ओनली नोड्स के कॉन्फ़िगरेशन के समान है। इस सिस्टम पर कुल 156 ऐसे नोड हैं। यह उच्च-स्मृति संगणनाओं (high-memory computations) के लिए अधिकतम 7488 कोर उत्पन्न कर सकता है।