भारत की पहली ‘कार्बन-न्यूट्रल पंचायत’

138

हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू और कश्मीर के सीमावर्ती क्षेत्र सांबा के पल्ली ग्राम में 500 KV का सौर संयंत्र देश को समर्पित किया है। इससे पल्ली ग्राम भारत की पहली ‘कार्बन न्यूट्रल पंचायत’ बन गई है।

महत्त्वपूर्ण बिंदु :

इस परियोजना की कुल लागत 2.75 करोड़ रूपये आँकी गई है।

इसके तहत उत्पन्न बिजली को स्थानीय पॉवर ग्रिड स्टेशन के माध्यम से गाँव में वितरित किया जाएगा।

अपने निर्धारित समय में इस योजना को पूर्ण करने में ग्रामवासियों का पूरा सहयोग रहा है।

पल्ली ग्राम ने कार्बन न्यूट्रल ग्राम पंचायत बनकर देश के अन्य गाँव और शहरों के लिए उदाहरण पेश किया है।

केंद्र सरकार के ‘ग्राम ऊर्जा स्वराज’ कार्यक्रम के तहत 1,500 सौर पैनल मॉडल की सहायता से ग्राम पंचायत के 340 घरों को स्वच्छ बिजली प्रदान की जाएगी।