यशोदा वर्मा : खैरागढ़ विधायक

73

खैरागढ़ विधानसभा सीट से नवनिर्वाचित कांग्रेस विधायक यशोदा वर्मा ने गुरुवार को विधानसभा में विधायक पद की शपथ ली। विधानसभा में आयोजित सादे समारोह में यशोदा वर्मा ने छत्‍तीसगढ़ी भाषा में शपथ ली। इसके ​लिए विधायक यशोदा वर्मा छत्तीसगढ़ की संस्कृति एवं लोधी समाज की पारंपरिक वेशभूषा में शपथ ग्रहण के लिए रायपुर पहुंची।

शपथ ग्रहण के बाद सीएम भूपेश बघेल ने यशोदा वर्मा को बधाई दी। शपथ के दौरान स्पीकर डाक्टर चरणदास महंत, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, उपाध्यक्ष मनोज मंडावी, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, संसदीय कार्यमंत्री रविन्द्र चौबे समेत अनेक जनप्रतिनिधि भी मौजूद रहे। देवव्रत सिंह के निधन के बाद हुए उपचुनाव में कांग्रेस की यशोदा वर्मा ने भाजपा के कोमल जंघेल को 20 हजार से अधिक वोटों से पटखनी दी थी। इस जीत के बदले खैरागढ़-छुईखदान-गंडई को उपहार स्वरूप जिले की सौगा​त मिली है।

खैरागढ़ उपचुनाव में जीत और आज शपथग्रहण के बाद छत्तीसगढ़ विधानसभा में कांग्रेस विधायकों की संख्या 71 पहुंच गई। सदन में भाजपा विधायकों की संख्या 14, जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जेसीसीजे) के 3 और बहुजन समाज पार्टी के 2 विधायक हैं। 90 सदस्यीय विधानसभा में कांग्रेस पार्टी के सबसे ज्यादा विधायक हैं। छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा, चित्रकोट और मरवाही में हुए उप चुनाव में कांग्रेस की जीत के बाद विधायकों की संख्या 70 थी। 

खैरागढ़ को बनाया गया जिला
राजनांदगांव जिले के खैरागढ़ विधानसभा उपचुनाव में यशोदा वर्मा ने भाजपा के कोमल जंघेल को रिकार्ड 20 हजार से अधिक मतों के अंतर से हराया। 16 अप्रैल को परिणाम आया और उसी दिन शाम को सीएम भूपेश बघेल ने खैरागढ़-छुईखदान-गंडई को जिला बनाने की घोषणा कर दी। गुरुवार को विधानसभा अध्यक्ष ने नवनिर्वाचित विधायक यशोदा वर्मा को पद व गोपनीयता की शपथ दिलाई। विधानसभा के सचिव दिनेश शर्मा ने कार्यक्रम का संचालन किया।