राज्य खाद्य सुरक्षा सूचकांक

204

चर्चा में क्यों

हाल ही में, विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस के अवसर राज्य खाद्य सुरक्षा सूचकांक का चौथा संस्करण जारी किया गया।

प्रमुख बिंदु

वर्ष 2021-22 के लिये जारी राज्य खाद्य सुरक्षा सूचकांक में बड़े राज्यों में प्रथम तीन स्थान तमिलनाडु , गुजरात और महाराष्ट्र को प्राप्त हुआ हैं। छोटे राज्यों में गोवा पहले स्थान पर है, उसके पश्चात् मणिपुर और सिक्किम का स्थान है।
केंद्र शासित प्रदेशों में प्रथम तीन स्थान जम्मू और कश्मीर, दिल्ली और चंडीगढ़ ने हासिल किया है।
सूचकांक के बारे में

इस सूचकांक को भारतीय खाद्य संरक्षा एवं मानक प्राधिकरण (FSSAI) द्वारा जारी किया जाता है। यह सूचकांक खाद्य सुरक्षा के पाँच मानकों मानव संसाधन एवं संस्थागत डेटा, अनुपालन (Compliance), खाद्य परीक्षण – बुनियादी ढांचा एवं निगरानी, प्रशिक्षण एवं क्षमता निर्माण तथा उपभोक्ता अधिकारिता पर राज्यों के प्रदर्शन को मापता है।
इस सूचकांक को देश में खाद्य सुरक्षा से जुड़े पारितंत्र में प्रतिस्पर्धी एवं सकारात्मक बदलाव लाने के उद्देश्य से वर्ष 2018-19 में शुरू किया गया था। यह सूचकांक नागरिकों को सुरक्षित एवं पौष्टिक भोजन उपलब्ध कराने में मदद करता है।