वर्नाक्यूलर इनोवेशन प्रोग्राम

81

चर्चा में क्यों?

हाल ही में, देश भर में नवोन्मेषकों और उद्यमियों को सशक्त बनाने के लिये नीति आयोग ने अटल इनोवेशन मिशन(ए.आई.एम.) के तहत ‘वर्नाक्यूलर इनोवेशन प्रोग्राम’ की शुरुआत की है। 

क्या है वर्नाक्यूलर इनोवेशन प्रोग्राम?

यह कार्यक्रम देश के नवोन्मेषकों और उद्यमियों को आठवीं अनुसूची में उल्लिखित 22 भाषाओं में नवाचार पारितंत्र तक पहुँच प्रदान करेगा।

इस कार्यक्रम के तहत अटल इनोवेशन मिशन 22 अनुसूचित भाषाओं में वर्नाक्यूलर टास्क फ़ोर्स को प्रशिक्षण प्रदान करेगा। इस टास्क फ़ोर्स में स्थानीय भाषा के शिक्षक, विषय-विशेषज्ञ तथा तकनीकी लेखक शामिल होंगे।

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, दिल्ली के सहयोग से अटल इनोवेशन मिशन के द्वारा ‘ट्रेन-द-ट्रेनर’ प्रशिक्षण कार्यक्रम की शुरुआत की जाएगी। यह वर्नाक्यूलर टास्क फ़ोर्स को डिजाइन और इनोवेशन में प्रशिक्षण प्रदान करेगा। 

लाभ 

यह कार्यक्रम विभिन्न भाषाई समुदायों की डिज़ाइन और इनोवेशन क्षमताओं को मजबूत करेगा, जिससे स्थानीय उद्यमियों एवं कारीगरों को ए.आई.एम. द्वारा विकसित तकनीकी सामग्री को अपनाने में मदद मिलेगी।

यह स्थानीय स्तर पर डिज़ाइन विशेषज्ञों और नवाचार पेशेवरों के एक मजबूत नेटवर्क के निर्माण में सहायता करेगा।

यह युवाओं में संज्ञानात्मक एवं डिजाइन से संबंधित सोच को मजबूत करेगा।

यह पहल भाषा की बाधाओं को दूर करने और देश के दूरस्थ क्षेत्रों में नवोन्मेषकों को सशक्त बनाने में सहायक होगा।