वित्तीय समावेशन सूचकांक

102

हाल ही में, भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा वित्तीय समावेशन सूचकांक जारी किया गया।

प्रमुख बिंदु

भारतीय रिजर्व बैंक ने सरकार सहित संबंधित हितधारकों से परामर्श कर वित्तीय समावेशन सूचकांक (FI Index) तैयार किया है।

मार्च 2022 में इस सूचकांक का मूल्य 56.4 है, जो मार्च 2021 के मुकाबले 2.5 की वृद्धि दर्शाता है। साथ ही, इसके सभी उप-सूचकांकों में भी वृद्धि देखी गई है।

यह सूचकांक वित्तीय समावेशन के विभिन्न पहलुओं पर 0 से 100 के बीच एक मूल्य प्रदर्शित करता है, जहाँ 0 पूर्ण वित्तीय बहिष्करण की स्थिति को जबकि 100 पूर्ण वित्तीय समावेशन को दर्शाता है।

यह सूचकांक बिना किसी ‘आधार वर्ष’ के तैयार किया जाता है तथा प्रतिवर्ष जुलाई में प्रकाशित होता है।

इस सूचकांक में तीन व्यापक मानदंड शामिल हैं :

पहुँच (भारांश- 35%)

उपयोग (भारांश- 45%) गुणवत्ता (भारांश- 20%)