स्मृति मंधाना : सर्वश्रेष्ठ महिला क्रिकेटर

107

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की ओपनर स्मृति मंधाना (Smriti Mandhana) को आईसीसी वुमेंस क्रिकेटर ऑफ द ईयर (ICC Womens Cricketer Of The Year) चुना गया है. स्मृति मंधाना को अपने करियर में दूसरी बार साल का सर्वश्रेष्ठ महिला क्रिकेटर चुना गया है. उन्हें इससे पहले साल 2018 में भी यह सम्मान मिला था.

हालांकि, उनकी मुकाबला इंग्लैंड की टैमी ब्यूमोंट, दक्षिण अफ्रीका की लिजेल ली और आयरलैंड की गैबी लुईस से थी. उन्होंने इस सभी को पीछे छोड़ते हुए अवॉर्ड अपने नाम किया. उन्हें आईसीसी ने साल 2021 का तीनों फॉर्मेट में बेस्ट वुमेन्स क्रिकेटर चुना है. यह खिताब उन्होंने दूसरी बार अपने नाम किया है.

पहली भारतीय महिला खिलाड़ी

यह अवॉर्ड मंधाना ने दूसरी बार अपने नाम किया है. वे इससे पहले साल 2018 में भी सर्वश्रेष्ठ महिला क्रिकेटर एवं सर्वश्रेष्ठ महिला वनडे क्रिकेटर भी रह चुकी हैं. वे दो बार यह अवॉर्ड जीतने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी हैं. इससे पहले झूलन गोस्वामी (साल 2007) ने केवल एक बार यह अवॉर्ड जीता है.

ऐसा करने वाली दूसरी महिला क्रिकेटर

वहीं, ओवरऑल स्मृति मंधाना ऐसा करने वाली दूसरी महिला क्रिकेटर हैं. उनसे पहले ऑस्ट्रेलिया की ऑलराउंडर एलिस पेरी दो बार (साल 2017, साल 2019) साल की सर्वश्रेष्ठ महिला क्रिकेटर होने का गौरव प्राप्त कर चुकी हैं. आईसीसी ने साल की सर्वश्रेष्ठ महिला क्रिकेटर अवॉर्ड की शुरुआत साल 2006 में की थी.

स्मृति मंधाना

स्मृति मंधाना ने साल 2021 में 22 अंतरराष्ट्रीय मैचों में 38.86 की औसत से 855 रन बनाए. उन्होंने पिछले साल 9 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में 31.87 की औसत और दो अर्धशतकीय पारियों की बदौलत 255 रन बनाए थे. जब मंधाना ने साल 2018 में सर्वश्रेष्ठ महिला क्रिकेटर का अवॉर्ड जीता था, तब उन्होंने वनडे में सबसे ज्यादा रन बनाए थे.

स्मृति मंधाना ने भारत के लिए चार टेस्ट, 62 वनडे और 84 टी20 मैच खेले हैं. उन्होंने टेस्ट मैचों में 46.42 की औसत से 325 रन बनाए हैं. इसमें एक शतक और पांच अर्द्धशतक शामिल हैं. उन्होंने वनडे में 41.70 की औसत से 2377 रन बनाए हैं. इसमें उनके नाम चार शतक और 19 अर्द्धशतक हैं. उन्होंने टी20 में 2593 की औसत से 1971 रन बनाए हैं. उसने खेल के सबसे छोटे रूप में चार अर्द्धशतक बनाए हैं.