12वां राष्ट्रीय मतदाता दिवस

67

उद्देश्य: भारत के चुनाव आयोग के स्थापना दिवस को चिह्नित करने के लिए, यानी 25 जनवरी 1950

उद्देश्य: विशेष रूप से नए मतदाताओं के लिए नामांकन को प्रोत्साहित करने, सुविधा प्रदान करने और अधिकतम करने के लिए

थीम: चुनावों को समावेशी, सुगम और सहभागी बनाना

पहली बार राष्ट्रीय मतदाता दिवस 25 जनवरी, 2011 को मनाया गया था

भारत का चुनाव आयोग भारत के संविधान के अनुच्छेद 324 के तहत बनाया गया एक संवैधानिक निकाय है।

राष्ट्रीय मतदाता दिवस

वर्ष 2011 में पहली बार 25 जनवरी को राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाया गया था. तब से हर साल नेशनल वोटर्स डे राष्ट्रीय स्तर पर मनाया जाता है. 25 जनवरी को ही भारतीय निर्वाचन आयोग की स्थापना हुई थी. निर्वाचन आयोग के स्थापना दिवस को ही राष्ट्रीय मतदाता दिवस के रूप में मनाया जाता है.

राज्य एवं जिला स्तर पर पुरस्कार

इस दौरान सोशल मीडिया पर राष्ट्रीय मतदाता जागरूकता प्रतियोगिता (National Voter Awareness Contest) की भी शुरुआत की जायेगी. इस प्रतियोगिता का नाम ‘मेरा वोट मेरा भविष्य – एक वोट की ताकत’ (My Vote is my Future- Power of One Vote) होगा. इस दौरान वर्ष 2021-22 के लिए राज्य एवं जिला स्तर पर राष्ट्रीय पुरस्कार भी प्रदान किये जायेंगे. प्रतियोगिता की कई श्रेणियां होंगी, जिसमें गीत, स्लोगन, क्विज, वीडियो मेकिंग और पोस्टर डिजाइन शामिल हैं. इसके विजेताओं को नकद पुरस्कार दिया जायेगा.