‘ज्योतिर्गमय’ उत्सव

235

हाल ही में केंद्रीय संस्कृति मंत्री जी किशन रेड्डी ने राष्ट्रीय राजधानी में ‘ज्योतिर्गमय’ अगोचर कलाकारों की प्रतिभा का जश्न मनाने वाले त्योहार का शुभारंभ किया। संगीत अकादमी ने आजादी का अमृत महोत्सव के हिस्से के रूप में विश्व संगीत दिवस के अवसर पर इस उत्सव का आयोजन किया। इस दौरान देश के दुर्लभ संगीत वाद्ययंत्रों की प्रतिभा को उजागर किया गया। इन वाद्ययंत्रों में सड़क पर और ट्रेन में मनोरंजन करने के उद्देश्य से प्रदर्शन करने वालों द्वारा बजाए जाने वाले वाद्ययंत्र भी शामिल थे।

प्रमुख बिंदु:

केंद्रीय सांस्कृतिक मंत्री रेड्डी ने संगीत को एक सार्वभौमिक भाषा बताया।
उन्होंने भारतीय संगीत के बारे में बताते हुए कहा कि यह अपनी संस्कृति की तरह ही बेहद विविध है।
इस आयोजन के द्वारा लोक संगीत और उसके वाद्ययंत्रों के संरक्षण को आगे बढ़ाया जाएगा।


ओरेकल ने पेश किया ‘OCI समर्पित क्षेत्र’
हाल ही में अमेरिका स्थित प्रौद्योगिकी प्रमुख ओरेकल क्लाउड इंफ्रास्ट्रक्चर (OCI) ने भारतीय बाजार के लिए ‘ओसीआई समर्पित क्षेत्र’ पेश किया है। ओरेकल द्वारा प्रदत्त यह प्लेटफॉर्म ग्राहकों को सख्त विलंबता और डेटा-संप्रभुता की आवश्यकताओं को पूरा करते हुए अपने परिसर में सार्वजनिक क्लाउड का लाभ उठाने में सक्षम करेगा।

कंपनी के अनुसार ओसीआई समर्पित क्षेत्र को औसतन 60-75 प्रतिशत कम डेटा सेंटर स्थान और बिजली की आवश्यकता होती है। ओरेकल कंपनी इस नई पेशकश से अपने परिसर में ग्राहकों को 100 से अधिक OCI सार्वजनिक क्लाउड सेवाएँ देने की अनुमति देगी जो पहले केवल सार्वजनिक क्लाउड उपभोक्ताओं के लिए उपलब्ध थी। इससे बैंकिंग और अन्य क्षेत्रों में सार्वजनिक क्लाउड को अपनाने को बढ़ावा देने में मदद मिलेगी।