भारत निर्वाचन आयोग पर ‘वर्चुअल रीजनल फोरम’

119

संदर्भ:
भारत निर्वाचन आयोग (ईसीआई) द्वारा “हमारे चुनावों को समावेशी, सुलभ और सहभागी बनाना” विषय पर ‘एशियाई क्षेत्रीय मंच’ की एक वर्चुअल बैठक की मेजबानी की गयी। क्षेत्रीय मंच की बैठक, आने वाले महीने में मेक्सिको के नेशनल इलेक्टोरल इंस्टीट्यूट द्वारा आयोजित होने वाले “चुनावी लोकतंत्र के लिए शिखर सम्मेलन” से पहले आयोजित किया गया है।


उद्देश्य: इसका उद्देश्य दुनिया भर के अंतरराष्ट्रीय संगठनों और चुनावी निकायों के बीच तालमेल पैदा करना और दुनिया में चुनावी लोकतंत्र को मजबूत करने के लिए बौद्धिक और संस्थागत लामबंदी को बढ़ावा देना है।
पिछले साल, ‘लोकतंत्र के लिए पहला शिखर सम्मेलन’ संयुक्त राज्य अमेरिका द्वारा “देश में लोकतंत्र को नवीनीकृत करने और विदेशों में निरंकुशता का सामना करने के लिए” विषय पर आयोजित किया गया था।


लोकतंत्र के संबंध में भारत की स्थिति:
फ्रीडम हाउस 2021 की रिपोर्ट ने भारत को केवल “आंशिक रूप से स्वतन्त्र” (Partly Free) देश के रूप में रखा है।
‘वी-डेम रिपोर्ट’ ने भारत को “चुनावी निरंकुशता” (Electoral Autocracy) बताया है।
‘ग्लोबल स्टेट ऑफ डेमोक्रेसी 2021’ रिपोर्ट: भारत को 10 सबसे पीछे खिसकने -एक अधिक गंभीर और जानबूझकर लोकतांत्रिक क्षरण- वाले लोकतंत्रों में से एक की श्रेणी में शामिल किया गया था।