IWF जूनियर विश्व भारोत्तोलन चैंपियनशिप

270

भारत की ज्ञानेश्वरी यादव ने यूनान में चल रही आईडब्ल्यूएफ जूनियर विश्व भारोत्तोलन चैम्पियनशिप में महिलाओं के 49 किलोवर्ग में कांस्य पदक जीता जबकि वी रितिका तीसरे स्थान पर रही।

छत्तीसगढ की ज्ञानेश्वरी ने 156 किलो (73 और 83 किलो) वजन उठाया। वहीं 18 वर्ष की रितिका ने 150 किलो (69 किलो और 81 किलो) वजन उठाकर कांस्य पदक जीता ।

इस वर्ग में 10 ही प्रतिस्पर्धी उतरे थे। तोक्यो ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता इंडोनेशिया की विंडी सी ऐसाह ने 185 किलो वजन उठाकर स्वर्ण पदक जीता। उनके और ज्ञानेश्वरी के प्रदर्शन के बीच 29 किलो का अंतर था।

इस टूर्नामेंट में चीन, उत्तर कोरिया और थाईलैंड जैसे दिग्गज देशों ने भाग नहीं लिया है। यह वही वजन वर्ग है जिसमें तोक्यो ओलंपिक में मीराबाई चानू ने 202 किलो वजन उठाकर रजत पदक जीता था।

चानू के नाम क्लीन एंड जर्क वर्ग का विश्व रिकॉर्ड है जब उन्होंने पिछले साल एशियाई चैम्पियनशिप में 119 किलो वजन उठाया था। भारत के इस टूर्नामेंट में तीन पदक हो गए हैं ।

इससे पहले सोमवार को हर्षदा शरद गरूड़ ने स्वर्ण पदक जीता था। रूस और बेलारूस को आईडब्ल्यूएफ प्रतिस्पर्धाओं में भाग लेने से रोक दिया गया है। पिछले सत्र में रूस ने सर्वाधिक नौ पदक जीते थे।